Wednesday, September 21, 2022
HomeTechMeta,? All about details Facebook new name meta,

Meta,? All about details Facebook new name meta,

Facebook ने अपना new name meta क्यो रखा, इसलिए अपने फेसबुक का नाम बदला मेटा,

सोशल मीडिया की सबसे बड़ी कंपनी फेसबुक ने अपना नाम बदल दिया है जानिए क्यों फेसबुक ने अपना नाम बदला है और अपना नाम मेटा रखा है एक बार आप जान जाएंगे तो हैरान हो जाएंगे कि इतनी बड़ी कंपनी का नाम कैसे इतना जल्दी चेंज हो सकता है फेसबुक के को फाउंडर मार्क जुकरबर्ग ने ऐलान करते हुए लिखा कि वह अपने फेसबुक का नेम बहुत पहले से चेंज करने के बारे में सोच रहे थे परंतु अब उन्होंने इसका नाम चेंज करके मेटा कर दिया

Facebook change Name to name name Meta,

फेसबुक के को फाउंडर मार्क जुकरबर्ग ने अपने फेसबुक का जो नया नाम रखा है वह नाम रखा है मेटा जानिए मेटा नाम क्या होता है और क्यों उन्होंने मेटा ही रखा बल्कि फेसबुक एक इतनी बड़ी कंपनी है तो इतना जल्दी उसका नाम चेंज नहीं हो सकता है तो सबसे पहले यह कारण जाएंगे क्योंकि फेसबुक का जो आज तक कभी भी नेम चेंज नहीं हुआ जब से फेसबुक बनाएं उसका नाम सिर्फ फेसबुक ही रहा है परंतु 17 से 18 साल के बाद फेसबुक में अपना नाम बदल कर रखा है मेटा मेटा का मतलब होता है कि आप सोशल मीडिया के अगर एक्टिव है तो आप मेटा का मतलब समझ सकते हैं कि मेटा ऐसी जगह बहुत काम आता है जो अपने सॉफ्टवेयर के अंदर भी होता है उसी के आधार पर शायद उन्हें नाम मिटा रखा है

Meta name is Facebook but why

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग जानते हैं कि उन्हें इस नेम चेंज करने से कोई भी प्रॉब्लम नहीं होने वाली है क्योंकि 100 में से 95% लोग फेसबुक से जुड़े हुए हैं और फेसबुक भी अभी ऐसा प्लेटफॉर्म बन गया है जो यूट्यूब को पहुंचे के अंदर टक्कर दे सकता है क्योंकि दुनिया के अंदर सबसे ज्यादा मोस्ट पॉपुलर सिर्फ एक ही है वह है फेसबुक और उसके बाद में अगर कोई नाम आता है तो वह है यूट्यूब यूट्यूब अपने एडवर्टाइज के वजह से जाना जाता है और फेसबुक ने भी अपने ऐड नेटवर्क छोड़ दिया तो उनके नाम चेंज करने से इनको कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है

meta, Facebook, इसलिए क्या नेम चेंज,

फेसबुक में अपना नाम इसलिए चेंज कर दिया क्योंकि फेस का फेसबुक का तीन बार डाटा सभी यूजर का लिंक हो चुका है और वह सब एक ही कीवर्ड के आधार पर हुआ है क्योंकि फेसबुक फेसबुक के तीन बार डाटा को है किया गया और इसलिए फेसबुक के को फाउंडर मार्क जुकरबर्ग को इसके बारे में एक बार इसका नाम चेंज करना जरूरी हो गया जैसे भी इस कंपनी का नाम पहले कभी भी चेंज नहीं किया गया

RELATED ARTICLES

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments